Track your constituency


मिजोरम निर्वाचन आयोग



चुनाव नवीनतम समाचार

Assembly Election 2019: 4:30:03 PM पुणे में 102 साल के हाजी इब्राहीम अलीम ने अपने परिवार के साथ  वोट डाला। हाजी इब्राहीम चार दिन से अस्पताल में भर्ती थे। उन्होंने लोगों आगे पढ़ें…


चुनाव नवीनतम समाचार और अपडेट

लोकसभा चुनाव 2019 रिजल्ट्स लाइव अपडेट

लोकसभा चुनाव 2019 रिजल्ट्स लाइव अपडेट:   5:10:41 PM Election Results Live: 25 हजार से अधिक कार्यकर्ता पहुंचे बीजेपी मुख्यालय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शाम 6 बजे बीजेपी मुख्यालय जाकर कार्यकर्ताओं को आगे पढ़ें…

लोकसभा चुनाव 2019 सातवाँ चरण – Live Update

लोकसभा चुनाव 2019 सातवाँ चरण 6:16:55 PM Lok Sabha Election 2019 Phase 7 Live Update: शाम छह बजे तक कुल 60.21 प्रतिशत मतदान हुआ शाम छह बजे तक कुल 60.21 प्रतिशत आगे पढ़ें…

बंगाल में लोकतंत्र की मर्यादा ताक पर, लगातार हिंसक हो रहा माहौल

पश्चिम बंगाल आजकल एक लोकतंत्र होने की पहचान बनने में असमर्थ है। यहाँ चल रही चुनावी सरगर्मी के बीच केन्द्रीय बलों की 713 कम्पनियाँ और कुल 71 हजार सुरक्षा कर्मियों आगे पढ़ें…



मिजोरम के चुनाव आयोग के बारे में

मिजोरम, भारत के सात उत्तर-पूर्वी राज्यों में से एक है जो भारतीय मुख्य भूमि से सुदूर है। इस राज्य का निर्माण, असम से 20 फरवरी 1987 को उस समय किया गया था जब मिजो पहाड़ियों के निवासियों ने क्षेत्र में अपनी स्थानिक जातीयता के कारण अपने लिए अद्वितीय राज्य की मांग की थी। मिजोरम भारतीय संघ का 23वां राज्य बना। नव निर्मित राज्य तुलनात्मक रूप से छोटा था, जिसमें लगभग दस लाख आबादी निवास करती थी। इसलिए, इसकी विधायी विधानसभा एक राज्य की विधायी विधानसभा का गठन करने के लिए आवश्यक सीट (साठ) की न्यूनतम संख्या का प्रबंध कर सकती है।

इतिहास और गठन

मिजोरम के राज्य निर्वाचन आयोग का गठन 1992 में मिजोरम राज्य सरकार के तहत एक स्वायत्त निकाय के रूप में हुआ था। इसके साथ ही, भारत निर्वाचन आयोग (ईसीआई) द्वारा इसे स्थानीय, शहरी और ग्रामीण चुनावी प्रक्रियाओं को सौंप दिया गया। राज्य निर्वाचन आयोग के गठन के पीछे की विचारधारा यह सुनिश्चित करना था कि राज्य में चुनाव निष्पक्ष आधार पर आयोजित किए जाएं, जिसमें प्रत्येक चुनावी ढांचे में शामिल कार्य योजना पूर्ण निष्पक्ष और पारदर्शी हो।

मिजोरम के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ)

मिजोरम के वर्तमान समय के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अश्विनी कुमार हैं। वह 1992 से भारतीय प्रशासनिक सेवाओं में शामिल रहे हैं। कुमार के पास आईआईटी रुड़की से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बी.ई. की डिग्री, साथ ही स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से अंतर्राष्ट्रीय विकास और अर्थशास्त्र में परास्नातक डिग्री प्राप्त की है।

मिजोरम के राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त अधिकारी

मिजोरम के राज्य निर्वाचन आयोग ने राज्य में अपने चुनावी कर्तव्यों और गतिविधियों को पूरा करने के लिए विभिन्न अधिकारियों को निर्वाचित किया है। विभिन्न अधिकारियों के नाम इस प्रकार हैं:

  • मुख्य निर्वाचन अधिकारी: अश्विनी कुमार
  • संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी: एच लालेंग्वाविया
  • उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी, ममित: वी. रेमथंगा
  • उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी, कोलासिब: निहारिका राय
  • उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी, ऐज़ोल: फ्रैंकलिन लल्टिंकुमा
  • उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी, चम्फाई: लल्थंगपुआ
  • उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी, सेरछिप: जूही मुखर्जी
  • उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी, लुंगलेई: वी. सपचुंगा
  • उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी, लॉङ्गतलाई: बी. लालमिंगथंगा
  • उप मुख्य निर्वाचन अधिकारी, सइहा: आलोक स्वरुप

चुनाव अनुसूची और बजट

भारत निर्वाचन आयोग (ईसीआई) ने घोषणा की है कि मिजोरम में 4 दिसंबर 2013 को चुनाव में होंगे और पूरा मतदान एक ही चरण में किया जाएगा। मतपत्रों की गिनती 8 दिसंबर को होगी। अधिकारियों को निर्धारित करने और स्वयंसेवकों को शिक्षण देने की प्रक्रिया पहले से ही शुरू हो चुकी है। जैसा कि ईसीआई द्वारा निर्देशित किया गया है कि राजनीतिक दलों को प्रति उम्मीदवार पर अभियान व्यय 8 लाख रुपये तक सीमित करना चाहिए।

संपर्क जानकारी और पता

मुख्य निर्वाचन अधिकारी
मिजोरम सरकार
फुर्खविताहियांग, चल्त्लंग
ऐज़ोल - 796012
फोन: 038 9-2322558
फैक्स: 0389-2325131
ईमेल: [email protected]
वेबसाइट: www.ceomizoram.nic.in
Last Updated on October 01, 2018