Track your constituency


समाजवादी पार्टी (सपा)



Samajwadi Party Symbol

समाजवादी पार्टी का इतिहास



समाजवादी पार्टी (सपा), जो लगभग सामाजिक पार्टी के रूप में समझी जाती है, भारत की एक क्षेत्रीय राजनीतिक पार्टी है। इसका जन आधार मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश राज्य में है, हालांकि कर्नाटक, बिहार, उत्तराखंड और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में भी इसकी उपस्थिति है।
इसकी राजनीतिक स्थिति केन्द्रीय हैऔर यह लोकतांत्रिक समाजवाद, लोकप्रियता और सामाजिक रूढ़िवाद की राजनीतिक विचारधाराओं पर चलती है। उत्तर प्रदेश में मुख्यधारा के हासिए पर रहने वाले समाज के सामाजिक रूप से उत्पीड़ित वर्गों के लिए सपा अपनी पूर्ण निष्ठा और राजनीतिक संघर्ष का दावा करती है।दूसरे शब्दों में, लोकतांत्रिक समाजवादी पार्टी होने का दावा करते हुए समाजवादी पार्टी अल्पसंख्यकों, विशेष रूप से अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) और मुसलमानों के उत्थान एवं आर्थिक प्रगति की बात करती है। पार्टी धर्मनिरपेक्षता के मार्गदर्शक सिद्धांतों पर भी काम करती हैऔर सभी सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ संघर्ष करती है।

अनुभवी नेता और पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव द्वारा लखनऊ में अक्टूबर 1992 में गठितसपामूल संगठन जनता दल से अलग होने वाले कई राजनीतिक दलों में से एक थी। समाजवादी पार्टी के प्रगतिशील विचारक, लेखक और महान सांसद राम मनोहर लोहिया के पदचिन्हों पर अग्रसर है, जिन्हें सपा के कार्यकलापों के लिए मार्गदर्शक माना जाता है।मूल स्तर की राजनीति में शामिल होने के लिए लोहिया का लोकतांत्रिक दृष्टिकोण और लोकप्रियता, अहिंसक प्रदर्शनों और सत्याग्रह के उनके गांधीवादी सिद्धांतऔर देश में पूंजीवादी और सामंती प्रवृत्तियों के सभी रूपों को समाप्त करने में उनकी धारणा ने समाज के सबसे गरीब और सबसे दुःखी वर्गों, निचली जातियों और अन्य अल्पसंख्यकों तक पहुँच बनाने में मुलायम और समाजवादी पार्टी के अन्य सदस्यों को बहुत प्रेरित किया है।लोहिया की 'करो या मरो' भावना पार्टी के लिए एक महान प्रेरणा है, जो देश के सामाजिक रूप से उपेक्षित लोगों के बीच आशा और आत्मविश्वास पैदा करती है।

16वीं लोकसभा में, समाजवादी पार्टी के वर्तमान में 5 सदस्य हैं। राज्यसभा में इस पार्टी के18 सदस्य हैं। राष्ट्रीय स्तर परपार्टी, संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन का सदस्य न होने के बावजूद गठबंधन को बाहरी समर्थन प्रदान करती है।

क्षेत्रीय स्तर परवर्ष 2012 के यूपी विधानसभा चुनावों में स्पष्ट बहुमत हासिल करते हुए और बसपा सरकार को हराते हुए सपा ने उत्तर प्रदेश में सरकार बनाई। मुलायम सिंह यादव के पुत्र अखिलेश यादव राज्य के मुख्यमंत्री थे। उसके बाद पार्टी नेअखिलेश यादव के नेतृत्व में 2017 में चुनाव लड़ा। आपसी विवादों और पारिवारिक फूट के कारण 2017 में पार्टी को बड़ी हार का सामना करना पड़ा और पूर्ण बहुमत में सरकार बनाने वाली पार्टी सिर्फ 47 सीटों पर सिमट गई।

निर्वाचन क्षेत्र संख्यानिर्वाचन क्षेत्र का नामउम्मीदवार का नामचरण
161बांकाकल्पना देवी1
146बेगूसरायदिलीप केशरी1
205भभुआनीतू चंद्र यादव2
156भागलपुरगोपाल भारती1
206चैनपुरआलोक कुमार सिंह2
160धोरइयागणेश पासवान1
236हिसुआनीतू कुमारी1
166जमालपुरपप्पू यादव1
241जमुईअब्दुल बाकी1
155कहलगांवशोभाकांत मंडल1
168लखीसरायरामाशीष कुमार1
158नाथनगरदिवाकर चंद्र दुबे1
235रजौलीमोती राजबंशी1
139रोसेराशत्रुघ्न कुमार पासवान1
136सरायरंजनरामाश्रय साहनी1
169शेखपुराविजय कुमार यादव1
157सुल्तानगंजअमरजीत कुमार सिंह1
167सूर्यगढ़रामानुज प्रसाद सिंह1
143तेघरामो. शमशेर आलम1
More...

सपा का चुनाव चिन्ह

समाजवादी पार्टी का चुनाव चिन्ह साइकिल है। यह प्रायः एक लाल और हरे रंग के दोरंगे पार्टी ध्वज पर अंकितकिया जाता है। लाल संघर्ष और क्रांतिकारी आदर्शों का रंग है। हरा घास या हरियाली का रंग है, जो सपा की राजनीति के बुनियादी स्तर को दर्शाता है। हरा आशा का रंग भी है। सपा का चुनाव चिन्ह महत्वपूर्ण है क्योंकि यह पार्टी की वास्तविक भावना का प्रतिनिधित्व करता है। इस प्रकार सपा का चुनाव चिन्ह महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह राज्य के विभिन्न समुदायों की समग्र प्रगति और विकास की दिशा में पार्टी कीउन्नति का प्रतीक है। एक साइकिल की तरह, जो किसी गंतव्य तक पहुँचने के लिए एक वाहन के रूप में उपयोग की जाती है, सपा विद्रोह के माध्यम से न्याय प्राप्त करने के अपने गंतव्य तक पहुँचना सुनिश्चित करती है। लाल झंडा पार्टी के समाजवादी होने और वर्ग संघर्ष सिद्धांतों का द्योतक है। इस प्रकार पार्टी का चुनाव चिन्ह यह दर्शाता है कि इसका अर्थ क्या है।

समाजवादी पार्टी के राजनेता

समाजवादी पार्टी के राजनेता, जो पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारी भी हैं, नीचे सूचीबद्ध हैं:
  • मुलायम सिंह यादव, सपा के संस्थापक: अपने नेता संवर्ग के बीच लोकप्रिय रूप से 'नेताजी' के रूप में प्रसिद्ध, मुलायम यादव उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। संयुक्त मोर्चा के अंतर्गतवह पूर्व केंद्रीय रक्षामंत्री भी रह चुके हैं। वर्तमान में वह समाजवादी पार्टी के मार्गदर्शक हैंऔर आजमगढ़ से सांसद हैं।
  • अखिलेश यादव, उत्तर प्रदेश सपा के अध्यक्ष हैं।वह कन्नौज निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हुए लोकसभा सदस्य रह चुके हैं।
  • अबू असिम आज़मी, महाराष्ट्र सपा के अध्यक्ष: वह उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हुए राज्यसभा की संसद के पूर्व सदस्य हैं। वर्तमान में वह महाराष्ट्र विधानसभा में एक विधायक हैं।
  • आज़म खान, सपा के राष्ट्रीय महासचिव: वह सपा की अगुवाई वाली उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं।
  • राम गोपाल यादव, सपा के महासचिव एवं प्रवक्ता: वह लोकसभा में उत्तर प्रदेश के संभल निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हुए संसद सदस्य रह चुके हैं।
  • राजेंद्र चौधरी,उत्तर प्रदेश के पार्टी प्रवक्ता।

16 वीं लोकसभा के कुछ सांसद निम्नलिखित हैं:

  • आज़मगढ़ सेमुलायम सिंह यादव सांसद हैं
  • कन्नौज से डिम्पल यादव सांसदहैं
  • फिरोजाबाद से अक्षय यादव सांसद हैं
  • बदायूं से धर्मेन्द्र यादव सांसद हैं
  • मैनपुरी से तेजप्रताप सिंह यादव (उपचुनाव में जीते) सांसदहैं

समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद निम्नलिखित हैं:

क्रम-संख्यानामपार्टीराज्य
1खान, श्री जावेद अलीएस पीउत्तर प्रदेश
2तज़ीन फातमा, डा.एस पीउत्तर प्रदेश
3नागर, श्री सुरेन्द्र सिंहएस पीउत्तर प्रदेश
4निषाद, श्री विशम्भर प्रसादएस पीउत्तर प्रदेश
5बच्चन, श्रीमती जयाएस पीउत्तर प्रदेश
6यादव, डा. चन्द्रपाल सिंहएस पीउत्तर प्रदेश
7यादव, प्रो. राम गोपालएस पीउत्तर प्रदेश
8यादव, चौधरी सुखराम सिंहएस पीउत्तर प्रदेश
9वर्मा, श्री बेनी प्रसादएस पीउत्तर प्रदेश
10वर्मा, श्री रवि प्रकाशएस पीउत्तर प्रदेश
11शेखर, श्री नीरजएस पीउत्तर प्रदेश
12सेठ, श्री संजयएस पीउत्तर प्रदेश
13सिंह, श्री रेवती रमनएस पीउत्तर प्रदेश

सपा की उपलब्धियां

एक क्षेत्रीय राजनीतिक दल के रूप में और राष्ट्रीय स्तर पर तीसरी सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी के रूप में, समाजवादी पार्टी की कई उपलब्धियां हैं, जिनमें से कुछ नीचे सूचीबद्ध हैं:
  • समाजवादी पार्टी 20वीं शताब्दी के आखिरी दशकों में महाराष्ट्र राज्य में शिवसेना द्वारा लक्षित भारतीयों के पक्ष में खड़ी होने वाली एकमात्र पार्टी थी। शिवसेना, जो क्षेत्रीय विशिष्टता की विचारधाराओं के आक्रामक समर्थन में विश्वास करती है, को समाजवादी पार्टी द्वारा सीधे चुनौती दी गई थी। पार्टी ने महाराष्ट्र के उत्तर भारतीय प्रवासियों के अधिकारों और विशेषाधिकारों का बचाव किया।
  • समाजवादी पार्टी बाबरी मस्जिद विध्वंस का विरोध करने वालों के मजबूत समर्थकों में से एक है, क्योंकि यह सभी सांप्रदायिक ताकतों से लड़ने और देश में शांति और सद्भाव लाने में विश्वास रखती है। भाजपा निर्देशित बाबरी मस्जिद के विध्वंस की सपा ने गंभीर आलोचना की है। पार्टी हर साल देश के इतिहास में उस दिन को ब्लैक डे के रूप में मनाती है।
  • सपा ने कांग्रेस द्वारा प्रेरित मूल्य वृद्धि, खुदरा क्षेत्र में एफडीआई और राज्य में कांग्रेस मंत्रियों के बीच प्रचलित भ्रष्टाचार के खिलाफ जोरदार विरोध किया है।
  • किसानों और राज्य की अन्य निचली जातियों के हितों की रक्षा के लिए केंद्र द्वारा बुंदेलखंड को 7,266 करोड़ रुपये के फंड आवंटन के खिलाफ मुलायम ने यह कहते हुए विरोध किया, कि पैकेज इस क्षेत्र के उचित विकास के लिए अपर्याप्त था।

समाजवादी पार्टी के कार्यालय का पता और वेबसाइट

  • सपा की आधिकारिक वेबसाइट: http://www.samajwadiparty.in
  • सपा के मुख्य कार्यालय का पता: समाजवादी पार्टी, 18 कॉपरनिकस लेन, नई दिल्ली
  • संपर्क संख्या:  011-23386842 Fax: 011-23382430
  • ईमेल:: samajwadipartynewdelhi@gmail.com, sonusamajwadi@gmail.com

सपा लोक सभा और विधान सभा इलेक्शन रिजल्ट् ईयर वाइज

लोक सभाविधान सभा
राज्यनवीनतम वर्षजीती गयी सीटेनवीनतम वर्षजीती गयी सीटे
कर्नाटक 2014020131
महाराष्ट्र2014020141
उत्तर प्रदेश 201452012224
वेस्ट बंगाल 2014020111


30 अक्टूबर, 2018 को अंतिम अपडेट किया गया