Track your constituency

Home » Political-Corner  » राजस्थान कांग्रेस में मुख्यमंत्री की कुर्सी के लिए जारी है उठापटक

राजस्थान कांग्रेस में मुख्यमंत्री की कुर्सी के लिए जारी है उठापटक

Posted by Admin on November 17, 2018 | Comment

राजस्थान कांग्रेस में मुख्यमंत्री की कुर्सी के लिए जारी है उठापटक 5.00/5 (100.00%) 1 vote

rajasthan vidhansabha chunav

राजस्थान में आगामी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की जीत की स्थिति में कांग्रेस के भीतर मुख्यमंत्री पद की दावेदारी की दौड़ तेज हो गयी है। यह दौड़ और भी रोचक हो चुकी है क्योंकि अशोक गहलोत, सचिन पायलट और सी.पी. जोशी चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुके हैं।कुर्सी की जंग इन तीनों ही नेताओं के बीच होने की सम्भावना है लेकिन वरिष्ठ कांग्रेस नेता सिंघवी ने कहा है कि यदि कांग्रेस राजस्थान की सत्ता में काबिज होती है तो अशोक गहलोत या फिर सचिन पायलट अगले मुख्यमंत्री बनेंगे।

चुनाव से पहले कांग्रेस द्वारा मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार की घोषणा न किये जाने के पीछे राजनीतिक विशेषज्ञों का मत है कि कांग्रेस नहीं चाहती कि चुनाव संपन्न होने तक मुख्यमंत्री पद को लेकर पार्टी के भीतर कोई दरार पैदा हो।

अशोक गहलोत कांग्रेस के महासचिव हैं और वर्तमान विधायक भी हैं, वहीं पायलट पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष हैं। जहाँ गहलोत का चुनाव में उतरना यह दर्शाता कि वह अभी भी मुख्यमंत्री पद की रेस में हैं, वहीं पायलट चुनावी रण में कदम रखते हुए पहली बार विधानसभा चुनावों में भाग ले रहे हैं तो उनके उद्देश्य का भी आकलन किया जा सकता है।

हालाँकि गहलोत ने कहा है कि कांग्रेस एकजुट है और पार्टी में फूट की ख़बरें भाजपा के षडयंत्र का हिस्सा हैं। वह पायलट की उपस्थिति में संवाददाताओं से कह चुके हैं कि “हम सब चुनावी समरभूमि में एकसाथ उतरने जा रहे हैं। सचिन पायलट, मैं….हम सभी चुनाव लड़ेंगे।” फिर पायलट ने भी कहा कि वह यह स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि “राहुल गाँधी के निर्देश और गहलोत के निवेदन के बाद, मैं भी चुनाव लडूंगा…गहलोत साहब भी लड़ेंगे।”

चूंकि नेताओं द्वारा मीडिया के सामने दिए गए वक्तव्यों की वास्तविकता और संदिग्धता राजनीति के चरित्र का हिस्सा होते हैं इसलिए यह कह पाना मुश्किल है कि ये बड़े नेता जो कह रहे हैं, वह सच है या नहीं। लेकिन सत्ता का इतिहास वर्चस्व की लड़ाइयों का गवाह रहा है। कुर्सी की ही तो जंग है, चाहे यह राजनीतिक दलों के बीच हो या फिर राजनीतिक दल के भीतर, लेकिन है तो सही।

राजस्थान कांग्रेस उम्मीदद्वारो की सूची यहाँ देखे ।

राजस्थान बीजेपी उम्मीदद्वारो की सूची यहाँ देखे ।

Pin It

<