Track your constituency

Home » Political-Corner  » प्रतीकात्मक रूप से चुनाव वाले 5 राज्यों में से बीजेपी के लिए कौन सा राज्य सबसे अधिक महत्व रखता है

प्रतीकात्मक रूप से चुनाव वाले 5 राज्यों में से बीजेपी के लिए कौन सा राज्य सबसे अधिक महत्व रखता है

Posted by Admin on November 23, 2018 | Comment

प्रतीकात्मक रूप से चुनाव वाले 5 राज्यों में से बीजेपी के लिए कौन सा राज्य सबसे अधिक महत्व रखता है 3.00/5 (60.00%) 1 vote

बीजेपी

भारत में चुनावकी शुरूआत होने के साथ-साथ राजनीति भी शुरु हो गई है। अगले कुछ महीनों में 5 राज्य, विधानसभा चुनावों का सामना करेंगे और विभिन्न पार्टियां एक-दुसरे पर आरोप-प्रत्यारोपलगाना शुरू कर देंगी।चुनाव के दौरान पार्टियों के लिए मतदाता “माई बाप” होंगे और चुनाव आयोग “भगवान” होगा।

छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना छोटे राज्य हैं और जहां तक ​​सीटों की संख्या का सवाल है, तो अगर इन तीनो राज्यों की सीटों को एक साथ मिलाकर देखें तो राज्य विधानसभा चुनावों में लगभग 250 सीटें हैं। वर्तमान में, मिजोरम और तेलंगाना अन्य पार्टियों द्वारा शासित हैं, इसलिए यह बीजेपी के लिए जीत दर्ज करने के लिए एक मुख्य मुद्दा नहीं है। छत्तीसगढ़ में बीजेपी की राह काफी मुश्किल होगी, लेकिन बीजेपी अपनीआखिरी चाल राजस्थान और मध्य प्रदेश में चलेगी।

इस लेख में, हम भाजपा के लिए राजस्थान और मध्य प्रदेश की प्रासंगिकता पर चर्चा करेंगेऔर इसी के लिए “क्या होगा यदि” का विश्लेषण करेंगे।

आइए राजस्थान से शुरूआत करें – प्रत्येक चुनाव में वैकल्पिक शासन के इतिहास वाला एक राज्य।विधान सभा और लोकसभा मेंसीटों की संख्याकोदेखते हुएराजस्थान निश्चित रूप से एक महत्वपूर्ण राज्य है। हालांकि, जनमत सर्वेक्षणों को देखते हुएकहा जा सकता है कि इस बारकांग्रेस बड़े अंतर के साथ बहुमत हासिल करेगी।

ऐसे सर्वेक्षण के सामने आने का मुख्य कारण मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की कामकाजी शैली और पिछले पांच वर्षों में जनता की जरुरतों की अनदेखी करना है।

राजस्थान में सामरिक रूप से हो रहा नुकसान मोदी लहर की गति को प्रभावित करेगा और इससे2019 के लोकसभा चुनावों में गंभीर प्रभाव पड़ सकता है। अगर किसी तरह भाजपा सर्वेक्षण और राजनीतिक विशेषज्ञों की राय को गलत साबित करते हुए बहुमत हासिल करती है तो बीजेपी के पास राज्य में फैली नकारात्मक वाइब्स पर ध्यान देनेकायह एक बड़ा मौका होगा।

दूसरी ओर, युवाओं के बीच सचिन पायलट की लोकप्रियता बढ़ रही है और वह मुख्यमंत्री के लिए एक मजबूत उम्मीदवार बन सकते हैं।

 चुनाव में मध्यप्रदेश- मेरी राय में, भाजपा के लिए मध्य प्रदेश सबसे महत्वपूर्ण राज्य है जिसे वह बचाना चाहेगी।हम एक करीबी टक्कर की उम्मीद कर रहे हैं लेकिन कुछ राजनीतिक विशेषज्ञों के अनुसारबीजेपी यह बाजी जीत सकती है| शिवराज सिंह चौहान की साफ-सुथरी छवि बीजेपी के लिए सबसे बड़ा समर्थन है लेकिन वहां के किसानों की दयनीय स्थिति औरकुछ घोटालों के मामले जैसे कुछ मुद्दे हैं, जो उन्हें जमीनी स्तर पर मात देंगे।

मध्य प्रदेश में कुल 230 सीटें हैं जिनमें से 66% से अधिक सीटें जीतना कोई आसान काम नहीं होगा। यदि बीजेपीमध्य प्रदेश में हार जाती है तो इसका निश्चित रुप से अर्थ यह होगा कि लोकसभा चुनावों में बीजेपी की शासन करने की राह आसान नहीं होगी। हम ऐसा क्यों कह सकते हैंऐसा इसलिए हैक्योंकि राजस्थान, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश ने पिछले चुनाव में बहुमत प्राप्त करने के लिए बीजेपी की मदद की थी और अगर वे इस बार चुनाव जीतकरसीटों को सुरक्षित नहीं करते हैं तो उनके लिए भारत में अन्य राज्यों के अंतर को कम करना वास्तव में कठिन होगा।

इसलिए मध्य प्रदेश और राजस्थान 2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों के लिए दिशा निर्धारित करेंगे।

Pin It

<